गर्भावस्था में हर महिला को एक डर लगा रहता है की उसका बच्चा कैसा होगा ? वह कैसे अपने बच्चे को जन्म देगी एंव उसकी डिलीवरी नार्मल हो जायेगी या नहीं ? ऐसे सवाल गर्भवती महिला के दिमाग पर असर डालते है और अगर गर्भवती महिला स्ट्रेस में होती है तो उसके भ्रूण में पल रहे बच्चे पर असर होने लगता है. ऐसे में गर्भवती महिला को डाईट में क्या देना चाहिए उसके बारें में हम यहाँ चर्चा करने वाले हैं. वैसे तो आज कल डॉक्टर गर्भवती महिला के लिए डाईट चार्ट बनाकर देते हैं और यह सब जो हम बताने वाले है उसमे ऐड किया होता है. खैर आप अगर इन्टरनेट पर हेल्थ टिप्स खोज रहे हो तो यह जानकारी आपके लिए फायदेमंद होगी. 

हरी मटर का सेवन है सुरक्षित 

अगर गर्भवती महिला को हरी मटर की सब्जी खिलाई जाए तो यह उसके आने वाले बच्चे के लिए और उसके लिए बहुत अच्छा फ़ूड हो सकता है. हरी मटर के अंदर फाइबर होता है और यह बहुत ही आसानी से पच भी जाती है. जिसकी वजह से गर्भवती महिला को गेस जैसी प्रॉब्लम नहीं होती है. साथ में हरी मटर के अंदर अनेक ऐसे गुण होते है जो बच्चे का भ्रूण में विकास के लिए जरूरी होते हैं. 

हरी मटर मूड बूस्टर भी कहलाती है 

गर्भवती महिला मूड हमेशा अपसेट रहता है और उसका अगर मूड सही रखना है तो आप हरी मटर की सब्जी उसे ऑफर कर सकते है. हरी मटर की सब्जी खाने से उसका मूड भी अच्छा हो जाएगा और उसके बच्चे का भी पोषण अच्छे से हो जाएगा. 

डाईट में जरुर शामिल करें मटर

मटर के अंदर अनेक ऐसे गुण है जो गर्भवती महिला के लिए बहुत जरूरी है और उसके स्वास्थ्य को अच्छा रखने के लिए हरी मटर का सेवन रामबाण की तरह काम कर सकता है. हरी मटर के सेवन से भूख भी अच्छी लगती है और गेस भी नहीं बनती है. जिसकी वजह से अपच की प्रॉब्लम नहीं होती है और साथ में अगर गर्भवती महिला को मचली आ रही है तो उसमे भी यह फायदेमंद हो सकती है. 

आपको हमारा यह आर्टिकल गर्भवती महिला का डाईट चार्ट कैसा लगा. अगर आपको किसी भी तरह के हेल्थ से जुड़े प्रश्न पूछने है तो यहाँ पर पूछ सकते है. आपके प्रश्न का जवाब देने की हम कोशिश करेंगे. 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here