गर्भवती महिला को उल्टी होना आम बात है. कुछ डॉक्टर्स कहते है की अगर किसी गर्भवती महिला को उल्टी नही होती है तो हो सकता है उसका भ्रूण का विकास नहीं हो रहा है. ऐसे में उल्टी होना एक पॉजिटिव संकेत है की भ्रूण का विकास हो रहा है पर अगर बार-बार गर्भवती को उल्टी आती है तो यह उसके दिमाग पर असर डालता है, जिसकी वजह से वह स्ट्रेस जैसी प्रॉब्लम में पड़ सकती है. ज्यादा उल्टी आने से गर्भवती की तबियत खराब हो सकती है ऐसे में कुछ ऐसे उपाय है जिनकी मदद से गर्भवती महिला की उल्टी को रोका जा सकता है. 

उल्टी ज्यादा आती है तो अपनाए यह तरीके 

अगर गर्भवती महिला को उल्टी बहुत ज्यादा आती है तो ऐसे तरीको को अपनाया जा सकता है अगर उसे दिन में नार्मल एक या दो बार उल्टी आती है तो यह समान्य होगा. इसके लिए किसी भी तरह की दवाओं की जरूरत नहीं होती है. हम यहाँ पर कुछ ऐसे तरीको के बारें में बता रहे है जिससे गर्भवती महिला को उल्टी से निजात दिलाई जा सकती है. हम एक बार फिर कह रहे है की अगर नार्मल से ज्यादा उल्टी हो तो इनका उपयोग करें समान्य तौर पर कभी ना करें – 

बेलगिर और चावल का पानी 

अगर बहुत ज्यादा उल्टी आ रही है तो बेलगिरी का गुदा चावल के पानी में मिलाकर पीने से उल्टी बंद हो जाती है. भारत में यह घरलू नुस्खा बहुत ज्यादा प्रचलित है. 

जामुन एंव आम की छाल 

आम और जामुन की छाल को चबाने से उल्टी आना बंद हो जाती है. अगर किसी गर्भवती महिला को बहुत ज्यादा उल्टी आ रही हो तो इसका उपयोग किया जा सकता है. 

नींबू पानी 

अगर उल्टी का सबसे आसान उपाय कुछ है तो वह है नींबू पानी का सेवन करने से गर्भवती महिला को उल्टी से निजात मिल सकती है. नीबू पानी का सेवन गर्भवती को दिन में एक या दो बार नार्मल करना चाहीए. 

इमली 

इमली का सेवन हर एक गर्भवती महिला लगभग करती है अगर किसी महिला को उल्टी बहुत ज्यादा आ रही है तो उसे इमली की चटनी बनाकर दी जा सकती है. इससे खाया हुआ पच भी जाएगा और गर्भवती महिला को उल्टी भी नहीं आएगी. 

गर्भवती महिला के स्वास्थ्य से जुड़ा हमारा यह आर्टिकल आपको कैसा लगा ? हमें जरुर बताएं एंव किसी भी तरह की गर्भावस्था से जुड़ी प्रॉब्लम हमारे साथ कमेंट में शेयर करें. हम आपको आपकी प्रॉब्लम से निजात पाने के उपाय बतायेंगे. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here